Home ट्रेंडिंग नोएडा फिल्मसिटी में ZEE NEWS बना कोरोना का अड्डा :आखिर किसकी है ये लापरवाही ?

नोएडा फिल्मसिटी में ZEE NEWS बना कोरोना का अड्डा :आखिर किसकी है ये लापरवाही ?

25 second read
0
0
58

Zee News का हाल और बुरा होता जा रहा है। 28 लोगों के संक्रमित होने की खबर अब पुरानी हो चुकी है। नई खबर ये है कि इस चैनल में काम करने वाले 66 लोग संक्रमित हो चुके हैं।मीडिया की खबर देने वाली एक वेबसाइट भड़ास फॉरमीडिया के मुताबिक अब ZEE NEWS के कोरोना संक्रमित लोगों की संख्या 66 से भी ज्यादा हो चुकी है।सबसे हैरानी की बात ये है कि ये संख्या भारत केकई राज्यों जैसे –मणिपुर, मेघालय, मिजोरम, अरूणाचल प्रदेश, लद्दाख, दादर नगर हवेली में हुए कोरोना संक्रमितों की संख्या से भी ज्यादा हैं।

कमाल की बात ये भी है कि जो ZEE NEWS चैनल खुद कभी निजामुद्दीन मरकज पर सवाल उठा रहा था अब उस पर सवाल उठने लगे हैं। वेबसाइट भड़ास फॉर मीडिया पर छपी एक पोस्ट के मुताबिक सोशल मीडिया में ये भी बातें कही जा रही हैं कि ZEE ने लंबे समय तक संक्रमितों की असली संख्या को छिपाने की कोशिश की बल्कि सुधीर के दवाब में जानबूझकर वहां के कर्मचारियों की जान खतरे में डाली गई!

Image Source..Hours of News

इतना ही नहीं सवाल ये भी पूछा जा रहा है कि क्या सुधीर चौधरी का टीवी शो DNA किसी भी तरह से ESSENTIAL SERVICE में आता है जो उसके लिए कर्मचारियों को दफ्तर आने को मजबूर किया गया ?इन तमाम विवादों के उठने के बाद अब ZEE NEWS के कर्मचारियों को किसी भी बाहरी व्यक्ति से फोन पर बात करने से मना कर दिया गया है। CRAZYFEED ने भी ZEE NEWS में काम करे कुछ लोगों से संपर्क करने की कोशिश की लेकिन बार कॉल करने के बावजूद वहां के किसी भी कर्मचारी ने फोन नहीं उठाया।

Image Source..The Guardian

हालांकि इन सबसे परे सुधीर चौधरी का प्रोपगंडा जारी है।जिस दिन ZEE NEWS के 28 कर्मचारी कोरोना पॉजिटीव निकले थे उस दिन सुधीर ने अपने कर्मचारियों को कोरोना वॉरियर बना कर पेश किया था।सवाल ये है कि लोगों का जान खतरे में झोंककर उन्हें कोरोना वॉरियर का तमगा क्यों चिपकाया जा रहा है ? अगर एक चैनल कोरोना का अड्डा बनता जा रहा है तो फिर उसे सावधानी के लिए पूरी तरह SEAL क्यों नहीं किया जा रहा ?

नोएडा प्रशासन ने तो कई दफ्तरों में इस तरीके से कोरोना फैलने की खबर आने के बाद उन्हें सील कर दिया था। सुधीर चौधरी पर इस वक्त गंभीर सवाल उठ रहे हैं। ZEE NEWS के कर्मचारियों के साथ पूरी संवदेना है लेकिन DNA जैसे शो में होने वाले के नाटक के नाम पर लोगों की जान को खतरे में डालना कहां तक जायज है ? आप भी अपनी राय नीचे कमेंट सेक्शन में जरूर बताइए !

Load More Related Articles
Load More By Lavanya Joshi
Load More In ट्रेंडिंग

Check Also

देश में मरते गरीब और पुलवामा ब्लास्ट : देशभक्त सरकार के सामने परेशानियां !

वैसे इस देश केदेशद्रोहियों का वाकईकुछ हो नहीं सकता। वो तो भला हो इस देश की देशभक्त सरकार क…