Home ट्रेंडिंग चंद्रयान 2 में हम “फेल” हुए : लेकिन ये 3 बातें साबित करती हैं चंद्रयान 3 सबकी कह के ले लेगा !

चंद्रयान 2 में हम “फेल” हुए : लेकिन ये 3 बातें साबित करती हैं चंद्रयान 3 सबकी कह के ले लेगा !

44 second read
0
0
144

चंद्रयान 2 क्या है ? मज़ाक उड़ाने वाले कह सकते हैं कि एक FAILED MISSION रहा लेकिन हम तो कहेंगे नए हौसले का तूफान है और संपर्क खोने से पहले ये चंद्रयान 2 वो पूरे देश को 3 ऐसे संकल्प देकर गया है कि जब हम चंद्रयान 3 उड़ाएंगे ना… तो ये सारे जलने वालों की कह के ले लेगा !
लिख के ले लीजिए… दिल कहता है बहुत जल्द ऐसा होने वाला है !

और न्यूज़ चैनल के एंकरों की तरह हम सिर्फ हवा में बात नहीं कर रहे, 3 बड़े सबूत भी आपको दे रहे हैं

पहला सबूत : नासा 12 बार फेल हुआ था भाई ! 🚀

नासा जो दुनिया की सबसे बड़ी और सबसे अमीर स्पेस एजेन्सी होने का दावा करता है वो तो ऐसे ऐसे मिशन में 12 बार फेल हो चुका है भाई साब ! जी हां, वो भी एक दो बार नहीं पूरे 12 बार और वो भी बैक टू बैक !

Nasa ने 12 बार कोशिश की और फेल हुआ !

17 अगस्त 1958 से लेकर 27 जुलाई 1964 तक अमेरिका ने कुल 12 बार कोशिश की चांद की जमीन को छूने की। अरबों रूपए फूंक के अंतरिक्ष के आसमान में उड़ा दिए। लेकिन कामयाबी नहीं मिली। तेरहवीं कोशिश जो कि 28 जुलाई 1964 को हुई उसमें अमेरिका की स्पेस रिसर्च एजेन्सी को पहली बार कामयाबी मिली।

तो भाई लोग… हौसला हारने का नहीं क्या ? 🛰️ 🛰️

दूसरा सबूत : संकल्प के आंसू ही असली ताकत देते हैं 👨‍🚀

जब चंद्रयान 2 विक्रम लैंडर ने चांद से महज़ 2.1 किलोमीटर दूर ISRO के स्पेस सेंटर से नाता तोड़ लिया तो हर एक की आंख में आंसू आ गए। क्योंकि महज़ कुछ ही घंटों में एक एक हिन्दुस्तानी का नाता जुड़ गया था अपने विक्रम से

और जब पीएम मोदी इसरो के स्पेस सेंटर से निकल रहे थे तब तो चीफ के सिवन इतने इमोशनल हो गए कि उनके आंसुओं को पोंछने के लिए पीएम मोदी ने उन्हें गले लगा लिया।

लेकिन क्या हम सिर्फ रो रहे हैं ? ना जी ना.. ये तो संकल्प के वो आंसू हैं जो असली ताकत देते हैं। ये आंसू वो जिद देते हैं जो अगली कामयाबी का रास्ता खोलता है। आंखों की ये नमी ये हौसला देती है कि ठीक है ए कामयाबी तू इस बार मुझसे दूर रह गई, लेकिन अगली बार तुझे अपनी महबूबा बनाकर ही मानूंगा !

यकीन मानिए सकंल्प के जो आंसू आज इसरो के महान वैज्ञानिकों की आंखों में छलके हैं ना वो चंद्रयान 3 को कामयाब बना कर ही छोड़ेंगे !

तीसरा सबूत : 130 करोड़ लोगों का हौसला एक साथ 💪

किसी भी स्पेस मिशन के लिए ऐसा “रतजगा” हमने कभी नहीं देखा था। ऐसा लग रहा था कि इसरो के स्पेस सेंटर में जाग रहे वैज्ञानिकों के साथ पूरा देश जाग रहा था। सफर का एक एक लम्हा ट्विटर पर ट्रेंड कर रहा था। लोग खुशी में यू ट्यूब लाइव कर रहे थे। एक एक कामयाबी की तस्वीरें लोग अपने सोशल मीडिया पर शेयर कर रहे थे

कहां मिलता है ऐसा हौसला ? ऐसे हौसले से तो इंसान आसमान तो क्या चांद में भी छेद कर दे। लिहाजा 2 बातें भूलनी की नहीं है

पहली बात : हम तो पहले भी चांद पर पहुंच चुके हैं भाई !

जी हां हम पहले भी चांद पर पहुंच चुके हैं और ये भी मत भूलिएगा कि अपने पहले चंद्र मिशन से ही भारत ने पहली बार दुनिया को ये बताया था कि चांद पर पानी के अंश मौजूद हैं। नासा हमसे पहले इतने चंद्र मिशन कर चुका था लेकिन चांद पर पानी के कण की खोज सबसे पहले भारत ने ही की। तो याद रखिए चांद हमसे ना तो दूर था, ना दूर है और ना ही चंद्रयान 3 🚀 से ज्यादा टाइम तक दूर रहने वाला है !
अब दूसरी बात >>


और दूसरी बात : 130 करोड़ से भी ज्यादा लोगों का हौसला

जी हां, 130 करोड़ लोगों की हुंकार, उनका हौसला ISRO के वैज्ञानिकों को और ताकत देगा और यकीन मानिए इस विश्वास के साथ जब अगली बार हुंकार भरेगा ना तो चंद्रयान 3 🚀 चांद से पहले रूकेगा नहीं !

तो हौसला रखिए… उम्मीद रखिए। चंद्रयान 3 की कहानी जब भी शुरू होगी इस बार ऐसे तो बिल्कुल खत्म नहीं होगी !
🚀 🚀 🚀 🚀🚀 जय हिन्द 🇮🇳🇮🇳

Load More Related Articles
Load More By Rashmi Saxena
Load More In ट्रेंडिंग

Check Also

अरे वाह! रिंकू भाभी ने दी खुशखबरी, जल्द पकड़ सकती है कपिल का हाथ!

जी हां, रिंकू भाभी ने अपने चाहनेवालों को खुशखबरी देने की तैयारी कर ली है। जल्द ही वो कपिल …