Home ट्रेंडिंग चीन के दिल में कौन सा पाप था : जो उसने कोरोना वायरस ढूंढने वाले डॉक्टर का मुंह बंद कर दिया ?

चीन के दिल में कौन सा पाप था : जो उसने कोरोना वायरस ढूंढने वाले डॉक्टर का मुंह बंद कर दिया ?

6 second read
0
0
143

कोरोना वायरस का आतंक पूरी दुनिया में छा चुका है। हर मुल्क अपने एयरपोर्ट पर बाहर से आने वालों की सघन तलाशी ले रहा है या फिर बाहर से आने वालों की एंट्री पूरी तरह बंद करने पर आमादा है। लेकिन इस बीच अब एक और बड़ा सवाल उठने लगा है। और सवाल ये है कि क्या चीन के दिल में कोई पाप छिपा था, जो उसने जानबूझकर कोरोना वायरस की बात लंबे समय तक सबसे छिपाई ? आखिर क्यों उस डॉक्टर को वायरस के बारे में बोलने से रोका गया जिसने सबसे पहले इस वायरस के ख़तरे को महसूस किया ?

जी हां… इस वक्त ना सिर्फ चीन में बल्कि पूरी दुनिया में चीन के वुहान प्रांत की डॉक्टर वू फेन के पुराने इंटरव्यू वायरल हो रहे हैं जिसमें उन्होंने बताया था कि किस तरह उन्हें कोरोना वायरस पर बात करने से रोका गया। वू फेन का दावा है कि चीनी अधिकारियों को उन्होंने वक्त रहते कोरोना वायरस के ख़तरे और इसके ख़तरनाक होने के बारे में बता दिया था, लेकिन उन्हें धमकी देकर अपना मुंह बंद रखने को कहा गया था।

यही हैं डॉक्टर वू फेन, जिनके इंटरव्यू से तहलका मचा हुआ है !
तस्वीरें : रेनवू

आपको बता दें कि डॉक्टर फेन चीन के उस इलाके जहां से कोरोना की शुरूआत हुई वूहान प्रांत के सेंट्रल हॉस्पिटल की इमरजेंसी डायरेक्टर हैं। डॉक्टर वू फेन ने आरोप लगाया है कि चीन के अधिकारियों ने उन्हें इस बात की धमकी दी थी कि अगर आप किसी से बात करेंगी तो अंजाम काफी बुरा होगा। आपको बता दें कि इस मामले को उठाने वाले ली वेनलियांग और उनके काफी साथी फिलहाल जेल में हैं।

सबसे ख़तरनाक बात तो ये है कि चीन के वुहान प्रांत में जिस डॉक्टर ने सबसे पहले कोरोना वायरस का पता लगाया उसकी मौत हो गई। इसके अलावा जो टीम शुरूआती दौर में कोरोना से जुड़े मरीजों को देख रही थी, उन सबको गायब कर दिया गया है।

डॉक्टर वू फेन ने ये सारी बातें एक चीनी मैगजीन रेनबू को दिए इंटरव्यू में बताई थी। बाद में चीनी अधिकारियों के दवाब की वजह से ये इंटरव्यू भी हटा लिया गया। लेकिन अब इस इंटरव्यू के काफी सारे हिस्से और खुलासों पर एक बार फिर से सवाल उठ रहा है।

सवाल ये भी है कि आखिर कोरोना वायरस पर अलार्म बटन दबाने वालों को लेकर चीन के अधिकारी इतने डरे हुए क्यों थे ? क्यों उन्होंने कोरोना वायरस के ख़तरे बताने वाले लोगों को जेल में ठूंसना शुरू कर दिया ?

कोरोना वायरस पर सोशल मीडिया में तैर रही काफी सारी CONSPIRACY THEORIES ये भी कहती हैं कि कोरोना वायरस दरअसल चीन के बायोलॉजिकल वेपन का एक हिस्सा था जो कि गलती से इंसानों में फैलना शुरू हो चुका है। एक ऐसा घातक प्रयोग जो कि फिलहाल पूरी मानव जाति के लिए एक बड़ा ख़तरा बन चुका है। क्या यही वजह है कि चीन अपनी इस गलती पर परदा डालने के लिए हर जतन कर रहा है ?

क्या सच में चीन के दिल में कोई पाप छिपा है ? आप भी अपना ज्ञान, अपनी सोच हमारे साथ नीचे कमेंट सेक्शन में शेयर कर सकते हैं।

Load More Related Articles
Load More By Aditi Sawant
Load More In ट्रेंडिंग

Check Also

नेहा धूपिया पर सारे MEMERS क्यों भड़के ? अंदर की कहानी यहां जानिए !

आपमें से जो लोग सोशल मीडिया, इंस्टाग्राम, फैसबुक वगैरह के दीवाने हैं। उन्हें अच्छी तरह पता…