Home ट्रेंडिंग LOCKDOWN लगाने वाली देशभक्त सरकार अब आखिर शराब बेचने पर क्यों आमादा है ?

LOCKDOWN लगाने वाली देशभक्त सरकार अब आखिर शराब बेचने पर क्यों आमादा है ?

12 second read
0
0
182

लॉकडाउन 3 में क्या खूब मजाक उड़ रहा है। शराब बिक रही है और दुकानों पर सोशल डिस्टेंसिंग की धज्जियां उड़ रही हैं। लोगों की लाइन ऐसे लगी है कि पूछिए मत। 40 दिन बाद शराब की एक बूंद चखने के लिए लोग एक दूसरे में घुसे और मरे जा रहे हैं।

जो नरेंद्र मोदी आज से 40 दिन पहले हाथ जोड़कर सोशल डिस्टेंसिंग की अपील कर रहे थे आज उन्हीं की आंखों के सामने शराब की दुकानों पर सोशल डिस्टेंसिंग का मजाक उड़ रहा है। लेकिन सवाल ये है कि लोगों की जान बचाने की बात करने वाली सरकार बस 40 दिन में ही इतनी मजबूर क्यों हो गई कि वो शराब बेचने पर उतारू हो गई ? क्या सरकार अगर शराब नहीं बेचेगी तो बरबाद हो जाएगी ?

Image Source..Patrika

क्या यही है सरकार की देशभक्ति या फिर ये सरकारी खजाने की ऐसी मजबूरी है जिसकी वजह से अब देशभक्ति बचाने के लिए भी शराब ही बेचनी पड़ेगी ?दरअसल इसका जवाब छिपा है शराब से मिलने वाले भारी भरकम टैक्स में, जिससे केंद्र सरकार के साथ साथ राज्य सरकार की भी खूब जेब भरती है। अब ऐसे में अपना खाली खजाना एक झटके में भरते के लिए सरकारें शराब बेचें तो क्यों ना बेचें ?

एक पूर्व अनुमान के मुताबिक शराब की सिर्फ एक्साइज़ ड्यूटी से ही राज्य सरकारों को 90000 करोड़ की मोटी आमदनी होती है। इतना ही नहीं शराब की बोतलों पर VAT यानि VALUE ADDED TAX भी लगता है औऱ ये भी सरकारों की मोटी कमाई का एक बेहतरीन ज़रिया है। दिल्ली सरकार ने तो शराब के लिए लोगों की प्यास और भीड़ को देखते हुए गुस्से में एक टैक्स और लगा दिया है। 5 मई से दिल्ली में शराब की बोतलें पहले के मुकाबले 70 % और ज्यादा महंगी कर दी गई हैं। लेकिन इस पर भी भीड़ में कोई कमी की खबर नहीं है।

Image Source..India Mart

खैर… इस वक्त सोशल मीडिया पर इस बात को लेकर भी बहस चल रही है कि शराब की दुकानें खोलकर सरकार ने 40 दिनों के लॉकडाउन इफेक्ट को खुद ही गुड़ गोबर भी कर डाला है। आप क्या सोचते हैं, इस बारे में जरूर अपनी राय हमें नीचे कमेंट सेक्शन में बताइएगा।

Load More Related Articles
Load More By Lavanya Joshi
Load More In ट्रेंडिंग

Check Also

देश में मरते गरीब और पुलवामा ब्लास्ट : देशभक्त सरकार के सामने परेशानियां !

वैसे इस देश केदेशद्रोहियों का वाकईकुछ हो नहीं सकता। वो तो भला हो इस देश की देशभक्त सरकार क…