Home फिल्मी ZOMATO वाले मामले पर डर गया बॉलीवुड : क्या ये है बड़े स्टार्स की चुप्पी की वजह ?

ZOMATO वाले मामले पर डर गया बॉलीवुड : क्या ये है बड़े स्टार्स की चुप्पी की वजह ?

1 min read
0
2
121

बॉलीवुड के बड़े बड़े सितारे जैसे सलमान, अक्षय, आमिर, अजय देवगन, शाहरूख खान ये तमाम लोग हर सामाजिक मुद्दे पर बात करते हैं, लेकिन ZOMATO के मामले पर क्या इन सबको एक साथ सांप सूंघ गया ?

ZOMATO के बहाने देश में बढ़ रही नफरत को एक करारा जवाब मिला था लेकिन इतने बड़े मसले पर रिचा चड्ढा, अनुभव सिन्हा और स्वरा भास्कर जैसी कुछ हस्तियों को छोड़कर बॉलीवुड से किसी बड़े स्टार ने रिएक्ट नहीं किया। तमाम बड़े स्टार्स अपने सुविधाजनक खोल में घुसे रहे और ऐसी एक्टिंग करते रहे जैसे वो सोशल मीडिया पर हो ही नहीं। जबकि हैरानी की बात तो ये थी कि यही तमाम बड़े बड़े सेलिब्रेटीज़ महज़ कुछ घंटे पहले मुंबई के वर्ली में एक DOGGIE की पिटाई किए जाने पर ताबड़तोड़ ट्वीट कर रहे थे और सबसे इंसानियत दिखाने की गुहार लगा रहे थे।

आर्टिकल 15 करने वाले आयुष्मान भी खामोश रहे तो My Choice और Me Too की बात करने वाली दीपिका भी चुप रहीं

तो भईया सवाल ये है कि आखिर बॉलीवुड के तमाम बड़े स्टार्स इस खास मुद्दे पर चुप्पी क्यों लगा गए ? क्या वो ट्रोल आर्मी से डर गए ? क्या उन्हें इस बात का डर सताने लगा कि कहीं कुछ बोल देने पर उनकी आने वाली करोड़ों की फिल्मों पर ख़तरा ना खड़ा हो जाए ?

अगर आप ये आर्टिकल पढ़ रहे हैं तो इस बात की संभावना कम ही है कि आपको ZOMATO का ये पूरा मामला पता ना हो। अगर नहीं पता तो जल्दी से समझ लीजिए। ये सारा विवाद तब शुरू हुआ जब एक आदमी ने इस वजह से ZOMATO को ऑर्डर किया हुआ खाना कैंसल कर दिया क्योंकि उस खाने की डिलीवरी एक NON HINDU RIDER कर रहा था। इस मुद्दे पर zomato ने साफ साफ कहा कि खाने का कोई धर्म नहीं होता और ये बेकार की बात है। इतना ही नहीं इस पर zomato के फाउंडर दीपिन्दर गोयल ने भी ट्वीट किया और कहा कि हमें बिजनेस के नुकसान का डर नहीं है और हम भारत की विविधता में यकीन रखते हैं। हमारे मूल्यों के खिलाफ हमें धंधा नहीं करना।

दीपिन्दर गोयल के इस ट्वीट की हर उस शख्स ने वाहवाही की जो कि एक अनेकता में एकता वाले भारत देश की बुनियाद पर यकीन रखता है। लेकिन काफी ऐसे लोग भी थे जो इस पूरे मसले की आड़ में एक बार फिर से नफरत की रोटियां सेंकने उतर आए। इन लोगों ने अलग अलग तरह के नफरती तर्क दिए और कहा कि और कुछ नहीं कर सकते तो खाना पहुंचाने वाली एप कंपनी का ही बहिष्कार कर डालो। इतना ही नहीं आपसी सौहार्द्र को खराब करने की कोशिशें भी सोशल मीडिया पर शुरू हो गई।

सिर्फ रिचा चड्ढा और स्वरा भास्कर जैसी Actress ने कुछ कहने की हिम्मत जुटाई

ये सब कुछ होता रहा। नफरत और प्यार की अलग अलग लहरें सोशल मीडिया पर ट्रेंड करती रहीं। लेकिन सोशल मीडिया पर बोतल कैप चैलेंज चलाने वाले खिलाड़ी कुमार इस मुद्दे पर कुछ कहने से बचते रहे। हां, इस बीच वो अपनी अपकमिंग फिल्म मिशन मंगल को जरूर प्रमोट करने आए और कर के चलते बने।

सवाल ये है कि आखिर इस मुद्दे पर कुछ भी बोलने से क्या देश के बड़े बड़े स्टार डर रहे हैं ? क्या उन्हें इस बात का डर सताता है कि कुछ कहने पर उनकी फिल्में कट्टर हिन्दुओं के निशाने पर ना आ जाएंगी ? दरअसल बॉलीवुड स्टार्स के इस डर के पीछे एक बड़ी वजह भी है। intolerance यानि असहिष्णुता के मुद्दे पर बात करने वाले आमिर खान को बड़ी कीमत चुकानी पड़ी थी। उनका जबरदस्त बहिष्कार हुआ और बाद में आमिर खान को एक कंपनी ने अपनी ब्रांड डील से भी हटा दिया था। कुछ यही हाल शाहरूख खान का भी हुआ था।

“असहिष्णुता के मुद्दे पर साल 2016 में आमिर खान ने बयान दिया था कि उनकी पत्नी किरण को अब अपने बच्चों के लिए इस देश में डर लगता है। इसके फौरन बाद आमिर के खिलाफ सोशल मीडिया पर ट्रोलिंग शुरू हो गई थी और आखिरकार स्नैपडील ने उन्हें अपने कैंपेन से अलग कर दिया था।”

लेकिन सवाल ये भी है कि करोड़ों अरबों में खेलने वाले इन बड़े सितारों के लिए भी क्या अब सच्ची बात कहने के साहस पर बिजनेस का डर हावी होने लगा है ? क्या ये भी वो कारोबारी हैं जो नफा नुकसान देखकर ही किसी मुद्दे पर मुंह खोलते या फिर बंद रखते हैं ?

Load More Related Articles
Load More By Kundan Shashiraj
Load More In फिल्मी

Check Also

काश… दिल्ली का DNA करने वाले सुधीर चौधरी खुद अपना DNA कर लेते तो आईना देखने की हिम्मत नहीं होती !

लोग ट्विटर पर सवाल पूछ रहे हैं कि क्या सुधीर चौधरी अपने घर पर आईना देखते हैं ? 2000 रूपए क…